DAGABAAJ YARA (Antim bhag)

DAGABAAJ YARA (Antim bhag)

Click here to read part..1

हमने जिनसे इश्क किया वो दगाबाज निकला,
उनके दिल में भी एक,छोटा सा दिमाग निकला।

पहले जी भर मैंने रोया,
बिखरे लाखों ख्वाब जो बोया,
जन्नत क्यों समझा मरघट को,
कैसी डाल के नीचे सोया,
अब भी हमदम पास खड़ी थी,
हंसकर मुझको देख रही थी,
वो नादान थी ये ना जाना,
पर्दा उनकी खुल चुकी थी,
जिनसे छुपकर प्रीत लगाई,
उसने राज सभी बतलाई,
क्यों की प्रीत वो हमसे झूठी,
सुनकर आंख में आंसू आयी,
उसका यार वही जो मेरा भी था,यार निकला,
हमने जिनसे इश्क किया वो,दगाबाज निकला।

पत्थर दिल पर रखकर बोला,
एक दिन राज को मैने खोला,
सुनकर सदमें में वो आयी,
सारी निकल गयी चतुराई,
उसके आँख में अश्क भरे थे,
मुजरिम जैसे साथ खड़े थे,
उसको देख दया फिर आयी,
आंखें मेरी थी भर आयी,
पल में भूल गया छल सारा,
प्रेम ने मुझको राह दिखाई,
मन में दोनों को मिलवाने का,अरमान पिघला,
हमने जिनसे इश्क किया वो,दगाबाज निकला।

लेना प्रेम नहीं कुछ जाना,
देना ही बस इसने जाना,
दुःख था किश्ती से बस इतना,
क्यों वह सागर ना पहचाना,
चुपके मंजिल से मिलवाया,
जन्नत की मैं सैर कराया,
आँखों में आसूं दफनाकर,
चाँद जमीं पर उनका लाया,
फिर भी वो अनजान दीवानी,
झोंका प्रेम की ना पहचानी,
मैं था नाविक उस किश्ती के,
निकली जिसपर सैर दीवानी,
उनको मिलवाया फिर,दिल से आशीर्वाद निकला,
हमने जिनसे इश्क किया वो, दगाबाज निकला।

मुद्दत बीत गया ना देखा,
खत ना कोई यार संदेशा,
गम क्या उनको घेर लिया है,
होता दिल में बहुत अंदेशा,
अब भी याद बहुत है आता,
दिल में प्यार उमड़ है जाता,
संसय कुछ भी होती दिल में,
मेरा जान निकल है जाता,
रब से दुआ करूँ खुश रहना,
मुझको और नहीं कुछ कहना,
खुश हूँ छोड़ गई तुम मेरा जो संसार बिखरा,
मैंने तुमसे इश्क किया क्यों दगाबाज निकला,
मैंने जिनसे इश्क किया वो, दगाबाज निकला।

!!! Madhusudan  !!!

Advertisements

30 thoughts on “DAGABAAJ YARA (Antim bhag)

      1. क्यु भाई क्यु हमे वंचित कर रहे है
        अपने से अभी अभी तो मित्रता हुई और ऐसा निर्णय? क्यु

        Like

  1. यूँ तो इसकी हर इक पंक्ति सुंदर हैं परंतु हमारी पसंदीदा पंक्तियाँ हैं- ” उनके दिल में भी छोटा सा दिमाग निकला।”

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s