Month: November 2017

Rawan/रावण

Rawan/रावण

Image Credit: Google बिशेश्रवा का पुत्र,पुलत्स्य का पौत्र, ब्राम्हण कुल जन्मा,ब्रम्हा का परपौत्र, जहाँ में कौन जो इस नाम से अनजान है, रावण जिसका नाम ही उसकी पहचान है।। संगीतबद्ध किया वेदों को, नाम था रावण, परमभक्त शिव का, उसका नाम था रावण, महापराक्रमी,शास्त्रों का प्रखर ज्ञाता, जो महाज्ञानी कहलाया, नाम था रावण, देवताओं को … Continue reading Rawan/रावण

Advertisements
Dil ki bechaini

Dil ki bechaini

Image Credit: Google छल से भरी इस दुनियाँ में,ऐ दिल हम किससे प्यार करें, डर लगता है गिर जाने का,हम किस किस पर ऐतबार करें। मुश्किल से खुद को जोड़ा है, यादों को पीछे छोड़ा है, मतलबी जमाने से मैंने, मुश्किल से रिस्ता तोडा है, अब कितने खुल कर रहते हैं, पंछी बन आज चहकते … Continue reading Dil ki bechaini

Majburi/मजबूरी

Majburi/मजबूरी

Image credit:Google बाबू एक रुपया दे दो, हमसे लाख दुआएँ ले लो, भूखे हम तो सो रहे हैं कल रात से, चूल्हा घर में जला ना कल रात से।2 एसी बस और रेलगाड़ी, बढ़ते दूजी ओर भिखारी, खुश हैं अफसर और धनवान, दुख में हैं मजदूर,किसान, नियत देख बनी है कैसी सरकार के, चूल्हा घर … Continue reading Majburi/मजबूरी

Samjhauta

Samjhauta

Image credit:Google जख्म गहरे मगर मुश्कुराते रहे, हंस के हर दर्द दिल में दबाते रहे, भूल की थी किसी पर यकीन कर लिया, अब कदम यूँ सम्हलकर बढ़ाते रहे, जख्म गहरे मगर मुश्कुराते रहे।।1।। आज भी याद में उसका चेहरा बसा, लब थिरकते मगर कैसा पहरा लगा, हम हंसे पर निगाहें उसे ढूढती, स्याह रातों … Continue reading Samjhauta

Mahatvakanksha/महत्वकांक्षा

Mahatvakanksha/महत्वकांक्षा

Image credit:Google है अपना कोई आस-पास, है हृदय भरी मक्कारी, घबराहट और तलवार साथ में, ले रखी दोधारी, हम अडिग खड़े हैं पास निहत्थे, खुद ही मिट जाने को, या बिना अस्त्र के ही रण में, कुछ अद्भुत कर जाने को, है मन मे बस एक सोच, रहा ना कोई यहाँ रहेगा, है आज यहाँ … Continue reading Mahatvakanksha/महत्वकांक्षा