jindagi

jindagi

Image credit: Google किये क्या अभी तक हिसाब मांगती, जिंदगी हमारी जवाब मांगती।। पैरों पर जब से हुए हम खड़े, हंसने,हँसाने की जिद पर अड़े, रुके कब,हँसे कब ना कुछ भी खबर, सभी को हँसाने में हम बेखबर, थके आज तब मुड़ के देखा मगर, हैं अपने बहुत पर किसे है खबर, इसी दर्द का … Continue reading jindagi

Advertisements
Kaisi Nafrat

Kaisi Nafrat

Image Credit : Google मात-पिता के चरणों में है तीरथ चारो धाम, दिल से उनको प्रेम करूँ,उनको मानू भगवान, गलत क्यों कहते हो,2 है कैसा धर्म,ईमान गलत तुम कहते हो?२ तीस साल की हुयी नहीं थी, प्रियतम छोड़ गए थे, मात-पिता एकमात्र सहारा, वे भी गुजर गए थे, तीनो की तस्वीर टँगी है, लगता जैसे … Continue reading Kaisi Nafrat

Dahej/दहेज

दहेज हमारे समाज का एक ऐसा कोढ़, जिसका दंश नारियाँ, बहु रूप में सारी जिंदगी झेलती है बावजूद दहेज की लोभी ज्यादातर नारियाँ ही होती हैं, शायद तभी ससुर-पुतोहु, देवर-भाभी की जंग न के बराबर तथा सास-बहू,ननद-भौजाई की जंग अक्सर सुनने को मिल जाता है, जागो नारियों,बस करो, खुद से खुद पर अत्याचार बंद करो। … Continue reading Dahej/दहेज

Quotes..22

सीधी जंग सम्भव है शेर से भी जीत लें, मगर मुश्कुराहट तले खंजर रखनेवालों से, हार निश्चित है, यूँ मुश्कुराकर ना देख डर लगता है, कहीं मेरी मुश्कुराहट ना खो जाये।। !!!मधुसदन!!!

Quote..21

हम अपने बेशकीमती जीवन का एक-एक पल अपनों को खुश करने में लगा देते हैं फिर भी शिकायत सबकी शेष रह जाती है, और उनको हमसे सबसे ज्यादा शिकायत होती है जिनके लिए हमने सबसे ज्यादा दौड़ लगाई।। !!!मधुसूदन!!! Follow my writings on https://www.yourquote.in/madhusudan_aepl #yourquote

Quotes..20

जब लड़के और लड़कियाँ जवाँ होते हैं तो अधिकतर के मन में अक्सर एक ही विचार हिचकोले लेता है लड़के अपने ख्वाबों में एक ऐसे जीवनसाथी को ढूंढता है जो सुन्दर् और सुशील हो एवं माँ-बाप का कद्र करनेवाली हो और लड़कियाँ एक ऐसा ससुराल जहाँ इंसान रहते हों। !!!मधुसूदन!!! Follow my writings on https://www.yourquote.in/madhusudan_aeplContinue reading Quotes..20

Quotes..19

शायद जादू ही है तभी तो उसके एक इशारे पर, मुश्कुराते हैं, उसके गुनगुनाने पर, गुनगुनाते हैं, सच है वह जादूगर, तभी तो उसके एक इशारे पर, खुद को भूल बिना पँख के ही संग,संग, उड़ जाते हैं।। !!!मधुसदन!!! Follow my writings on https://www.yourquote.in/madhusudan_aepl #yourquote