Tag: JHANSI KI RANI

JHANSI KI RANI

JHANSI KI RANI

  बिजली जैसे चमक रही थी,हांथों में उसकी तलवार, झांसी की रानी थी सुनलो लक्ष्मीबाई की ललकार | वीरों की धरती भारत में, वीर-धीर थी एक रानी, मणिकर्णिका,लक्ष्मीबाई,नाम छबीली एक रानी, भागीरथी माँ,पिता मोरोपंत,की संतान अकेली थी, शास्त्र,शस्त्र की शिक्षा,बचपन में ही उसने लेली थी, कानपूर की नानासाहेब की,मुँहबोली थी बहना, बरछी, तलवारों के संग … Continue reading JHANSI KI RANI

Advertisements