Tag: Maa

Maa/माँ

Maa/माँ

Image Credit : Google जिसका अपना अरमान नहीं, क्या कष्ट उसे कुछ भान नहीं, जिसके दिल केवल प्रेम भरे, आँखों से केवल स्नेह बहे, उर में अमृत का सागर हो, वात्सल्य भरा महासागर हो, कोई और नहीं वह माँ ही है, कल जैसी थी वैसा ही है, ऐसी ममता कहीं और नहीं, माँ से बढ़कर … Continue reading Maa/माँ

Advertisements
Jivan ki daud/जीवन की दौड़

Jivan ki daud/जीवन की दौड़

Images Credit :Google जीवन की नौका ये हौले-हौले चलती जाए रे, सागर सी दुनियाँ की लहरों से ये लड़ती जाए रे, जीवन की नौका ये हौले-हौले चलती जाए रे।। बालपना में समझ सके ना क्या है दुनियाँदारी, छोटी ताल,तलैया जैसी अपनी दुनियाँ सारी, आँख खुली तो देखा एक पगली सी संग में रहती है, खुद … Continue reading Jivan ki daud/जीवन की दौड़

MAA/माँ

MAA/माँ

Image Credit: Google अल्लाह,ईश्वर मिले कभी ना देखे हम भगवान्, बीत गयी सदियाँ फिर भी हम अबतक हैं अनजान, माँ को देखा तो देख लिया भगवान्, माँ के आँचल में पाया चैन,आराम, माँ को देखा तो। पता चला मैं कोख में आया जिह्वा अपनी दाग लिया, मेरी खुशियों की खातिर, अपनी खुशियाँ परित्याग किया, सुंदर … Continue reading MAA/माँ