Tag: Madiraalay

Madiraalay

Madiraalay

हम सब शराबी, दुनियां एक मयखाना है, किसी को नशा किसी को,नशे का बहाना है, वैसे तो दो घुट पीनेवाले,पीकर बहक जाते हैं, देखते ही देखते उनके, जाम बदल जाते है, गिरते हैं खुद वे लड़खड़ाकर मयखाने में जश्ने संसार मय को, दोषी बना जाते है, मंजर अजीब देखा दुनियां के मैखाने में, कितने बेचैन … Continue reading Madiraalay