Tag: Nafrat ki Aandhi

Kaisi Nafrat/कैसी नफरत

Kaisi Nafrat/कैसी नफरत

  Image Credit : Google जीवन में जिसने ना देखा दर्द कभी इंसान का, कहाँ हुआ कब दर्शन उसको अल्लाह या भगवान् का, कहाँ हुआ कब दर्शन उसको अल्लाह या भगवान् का| कोई मधुर अजान सुनाता,कोई घंट बजाता, कोई नफरत की बातें ही जन-जन में फैलाता, मतलब समझ सका ना जिसने गीता और कुरआन का, … Continue reading Kaisi Nafrat/कैसी नफरत

Advertisements
Nafrat ki Aandhi

Nafrat ki Aandhi

शंखध्वनि, घंटे, अजान के, सुर में दुनियां नाच रही है, अपनी डफली छोड़कर देखो,मानवता चित्कार रही है। हिन्दू,मुस्लिम,सिक्ख,ईसाई, सब कहते सब भाई हैं, अल्लाह,ईश्वर,गॉड,गुरु में, फिर क्यों छिड़ी लड़ाई है, आहत है इन्सान यहां, हर घर पर आफत आयी है, सत्ता का संघर्ष मात्र, वर्चस्व की छिड़ी लड़ाई है, कैसा रूप लिया मानव,किस ओर ये … Continue reading Nafrat ki Aandhi