Tag: Sarhad

Sarhad

Sarhad

Image credit :Google उत्तर,दक्षिण,पूरब,पश्चिम है दुश्मन के घाट-घाट, मेरे राम-रहीमा, थाम ले हमरी बाँह ..रे मोरे राम रहीमा थाम ले हमरी बाँह। जिस धरती पर राम हुए जिसने रावण संहार किया, कृष्ना ने जिस धरती से दुनियाँ को गीता ज्ञान दिया,2 उस पावन धरती पर अब तो दुश्मन देखे झाँक-झाँक, मेरे राम-रहीमा, थाम ले हमरी … Continue reading Sarhad

Advertisements