Tag: Unexpected

अनपेक्षित

अनपेक्षित

हम उसे ढूंढ लूँ  दुनियां से जो हमसे भूल गया, हम उसको कैसे ढूंढ सकें जो हमको भूल गया | आंखों का कह दें धोखा या है दुनियां का दस्तूर, पलकों पर रहनेवालों का दुर्लभ चरणों का धूल, जीवन अर्पित कर दी जिसपर ओ मंज़िल छूट गया, हम उसको कैसे ढूंढ सकें जो हमको भूल … Continue reading अनपेक्षित