Naya Saal Naya Sawera

Image credit: Google
है दास्ताँ सीखा गयी गुलामी बर्षों की,
अपना असर दिखा गयी गुलामी वर्षों की||
शुक्ल प्रतिपदा प्रथम दिन,
है चैत्र मास का ख़ास,
इसी दिन से ब्रम्हा ने की,
सृष्टि की शुरुआत,
इस दिन हम नववर्ष मनाते,
हिन्द को अपना खूब सजाते,
मगर इसे भी मिटा रही गुलामी वर्षों की,
अपना असर दिखा गयी गुलामी वर्षों की|1
सर्दी का दिन ढलते साल का,
अंतिम जश्न मनाते,
फागुन मास का एक महीना,
रंग-अबीर उड़ाते,
गले लगाते एक दूजे को,
जश्न मनाते पूरी रात,
साफ़-सफाई गलियों की कर,
करते नववर्ष की शुरुआत,
मगर मिटा दी रश्म सभी गुलामी वर्षों की,
अपना असर दिखा गयी गुलामी वर्षों की|2
माह जनवरी नया साल का,
पतझड़ लेकर आती,
चैत्र महीना नया साल,
नव कोपल है दिखलाती,
जहाँ की है नववर्ष जनवरी,
शायद वहां वसंत,
भारत की नववर्ष चैत्र है,
होती यहाँ उमंग,
हरियाली धरती पर होती,
फूल की खुशबु होती,
फागुन,चैत्र का माह हिन्द को,
खुशबु से भर देती,
मगर मिटा इतिहास गुलामी भाती वर्षों की,
अपना असर दिखा गयी गुलामी वर्षों की|3
राम,कृष्ण,महावीर,बुद्ध,
गुरुनानक की ये हिन्द,
भूल रहे हम धर्मस्थल अब,
भूले हिंदी दिन,
धर्म और परिधान भुलाते,
भूल रहे हैं भाषा,
पश्चिमवादी सोंच से अपनी,
बदल रही परिभाषा,
मष्तिष्क पर काबिज अपनी गुलामी वर्षों की,
अपना असर दिखा रही गुलामी वर्षों की,
आ नव वर्ष मनाएं, है कहानी बर्षों की |4
!!!मधुसूदन!!!

भारतीय नववर्ष, चैत्र शुक्ल प्रतिपदा विक्रमी संवत् 2075 (18 मार्च, 2018)” की आप सभी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ ।

“Happy New Year”

hai daastaan seekha gayee gulaamee barshon kee,
apana asar dikha gayee gulaamee varshon kee.
shukl pratipada pratham din hai,
chaitr maas ka khaas,
isee din se bramha ne kee,
srshtri kee shuruaat,
ham is din navavarsh manaate,
hind ko apana khoob sajaate,
magar ise bhee mita gayee gulaamee varshon kee,
apana asar dikha gayee gulaamee varshon kee.1
sardee ka din dhalate saal ka,
antim jashn manaate,
phaagun maas ka ek maheena,
rang-abeer udaate,
gale lagaate ek dooje ko,
jashn maanate pooree raat,
saaf-saphaee galiyon kee kar,
karate navavarsh kee shuruaat,
magar mita dee rashm sabhee gulaamee varshon kee,
apana asar dikha gayee gulaamee varshon kee.2
maah janavaree naya saal kee,
patajhad lekar aatee,
navavarsh ka maah chaitr,
nav kopal hai dikhalaatee,
jahaan kee hai navavarsh janavaree,
shaayad vahaan vasant,
bhaarat kee navavarsh chaitr hai,
hotee yahaan umang,
hariyaalee dharatee par hotee,
phool kee khushabu hotee,
phaagun,chaitr ka maah hind ko,
khushabu se bhar detee,
magar mita itihaas gulaamee bhaatee varshon kee,
apana asar dikha gayee gulaamee varshon kee.3
raam,krshn,mahaaveer,buddh,
gurunaanak kee ye hind,
bhool rahe ham dharmasthal ab,
bhoole hindee din,
dharm aur paridhaan bhulaate,
bhool rahe hain bhaasha,
pashchimavaadee sonch se apanee,
badal rahee paribhaasha,
mashtishk par kaabij apanee gulaamee varshon kee,
apana asar dikha gayee gulaamee varshon kee,
aa nav varsh manaen hai, kahaanee barshon kee.4
!!!madhusudan!!!

“Happy New Year”

Advertisements

75 thoughts on “Naya Saal Naya Sawera

  1. आपके जज्बातों की सराहना करते हैं। जीवन का हर पल नूतन अभिलाषा है। परिवर्तन से जगती आशा है। इससे खुशियां दुगनी होजाती। होजाती दूर निराशा है।पुरातन सहेज कर रक्खें। नूतन को भी अपनालें। दौनों के समिश्रण से निकली। जीवन धारा से खुशियां लहलहालें।

    Liked by 1 person

    1. बिल्कुल सही कहा सर्।।परिवर्तन संसार का नियम है कई सभ्यताएँ बदल गयी।।कितनो ने अपने धर्मान्धता और अपनी सोच में तो किसी को प्रकृति ने बदल दिया।।आज हम खुद ऐसी दौड़ में शामिल हैं जहाँ अपनो को छोड़ रहे हैं,आजादी के बलिदान भूल रहे हैं यूँ कहें तो अपनी पहचान खो रहे हैं ।
      सुक्रिया आपने अपने सुन्दर और सच्चे विचार ब्यक्त किये।।सुक्रिया आपका।

      Like

  2. Madhu Sudhan ji aapko naye saal mubarak. Thank u for liking my works and for following my blog. Aap jaise logon ki hi subh kamnayaan hame aage chalne ki thakath dethi hein. And it was nice of you to write your poem in Hinglish, so those who understands Hindi, but finds it hard to read also can enjoy ur work.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s