Quotes…27

कल रोते तो आँसूं नजर आते थे

अब तो दर्द में भी मुस्कुरा जाते हैं

मिल लिया करते कल जब भी इच्छा होती,

अब तो सपने भी पीछा छुड़ा जाते हैं,

जिंदगी है

कल कच्चे थे टूटकर भी जुड़ जाते थे,

मगर अब टूटने पर कहाँ जुड़ पाते हैं।

!!!मधुसूदन!!!

kal rote to aansoon najar aate they,

ab to dard mein bhee muskura jaate hain

mil liya karate kal jab bhee ichchha hotee,

ab to sapane bhee peechha chhuda jaate hain,

jindagee hai

kal kachche the tootakar bhee jud jaate the,

magar ab tootane par kahaan jud paate hain.

!!!madhusudan!!!

Advertisements

16 thoughts on “Quotes…27

      1. मधुसूदन जी आप जरा चेक करके बताएंगे क्या की मेरे नए पोस्ट पे कमेंट वाला ऑप्शन अवेलेबल दिख रहा है या नही। ऐसा लग रहा कि सेटिंग्स में कुछ गड़बड़ी हो गयी है।

        Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s